किसानों की केंद्र सरकार को चेतावनी बढ़ सकती है मोदी सरकार की मुश्किलें

कृषि कानून को लेकर चल रहे किसान और मोदी सरकार के बीच की सरगर्मी तेज़ हो चुकी है। किसानों ने सरकार से पीछे न हटते हुए सिंधु बॉर्डर पर डटे रहने की बात कही है जबतक की सरकार बुराड़ी के संत निरंकारी मैदान में गए किसानों को बॉर्डर पर वापस नहीं भेज देती।

किसानों ने दिल्ली जाने वाले सभी रास्तों को बंद करने की बात कही और सरकार से किसी भी तरह की बातचीत से इनकार करते हुए कहा की ऐसी ही स्थिति बनी रही तो दिल्ली जाने के सभी मार्ग इसी तरह से बंद रहेंगे।

स्वराज इंडिया के नेता योगेंद्र यादव और पंजाब भारतीय किसान यूनियन के अध्यक्ष गुरनाम सिंह ने कृषि कानून के विरोध में सिंधु बॉर्डर पर प्रेस वार्ता की।

किसानों ने हरियाणा से सटे गांव के किसानों से भी आग्रह किया की वो भी अपने इलाके के रास्तों पर रोक लगा दे। रास्तों पर लग रहे जाम की स्थिति पर किसानों ने कहा ये हमारे अधिकारों की लड़ाई है जनता हमें माफ़ करे।

किसानों के समर्थन में क्रिकेटर युवराज सिंह के पिता व आप विधायक राघव चड्ढा भी सिंधु बॉर्डर पर पहुंचे साथ ही दिल्ली के कांग्रेस प्रदेश उपाध्यक्ष मुदित अग्रवाल भी किसानों के बीच मौजूद रहें।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here