योगी सरकार की जुमलेबाजी के अलावा कोई उपलब्धि नहीं- अखिलेश

किसान आन्दोलन को लेकर सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव ने कहा कि भाजपा सरकार किसानों के नैतिक अधिकारों को छिनना चाहती है| उन्होंने कहा की सरकार नए कृषि कानून से किसानों पर अत्याचार की सभी लकीरों को पार कर चुकी है| उनकी मांगों को पूरा करने के बजाए अपनी बात मनवाने का जोर दे रही है| भाजपा सरकार को किसानों के साथ अलोकतांत्रिक व्यवहार के लिए जनता से माफ़ी मांगना चाहिये|

मंगलवार को अखिलेश ने भाजपा सरकार पर आरोप लगाते हुए कहा कि सरकार संविधानिक अधिकारों को भूलकर किसानों के शांतिपूर्ण आन्दोलन में किसानों के ऊपर लाठीचार्ज करवा रही है|

किसानों के समर्थन में आन्दोलन कर रहे सपा कार्यकर्ताओं को भाजपा सरकार ने जेल भेजकर ये साबित कर दिया कि लोकतंत्र में असहमति जताना अपराध बन गया है| ओलावृष्टि, बेमौसम बारिश से बर्बाद फसल का मुआवजा भी नहीं दिया|साथ किसानों की लगत का ड्योढ़ा दाम मिला है न ही उसकी आय दोगुनी हुई| भाजपा सरकार की न तो कोई नीयत है न ही कोई सोच|

किसानों को लेकर अखिलेश यादव ने ट्वीट कर कहा कि “भाजपा सरकार ने सपा के कार्यकर्ताओं को ही जेल नहीं भेजा है बल्कि किसानों की ही गिरफ़्तारी की है क्योंकि सपा के अधिकतर कार्यकर्ता किसान ही हैं। सपा के इस संघर्ष में किसान, मजदूर, महिला, युवा, छोटे व्यापारी, दुकानदार, कारोबारी साथ हैं क्योंकि कृषि क़ानून का असर सब पर पड़ रहा है”

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here