KANPUR BREAKING: 10 दिन से नहीं बिका था धान, किसान ने खरीद केंद्र में लगाई आग

उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) में धान किसानों की दिक्कत कम होने का नाम नहीं ले रही है। भाजपा सरकार (BJP Government) के गैरजिम्मेदाराना रवैये के चलते किसान, धान बेचने के लिये भटक रहे हैं। किसानों की मानसिक पीड़ा का अंदाजा इसी से लगाया जा सकता है कि कानपुर में 10 दिन से किसान की धान तौल न होने पर मायूस किसान ने अपनी धान को आग के हवाले कर दिया। उसने केंद्र पर रखे धान में पेट्रोल डाल आग लगा दी। दरअसल चौबेपुर क्षेत्र के खरगपुर निवासी किसान अपनी धान 28 दिसंबर को लगभग 50 कुंटल चौबेपुर धान खरीद केंद्र में लेकर था आया था केंद्र कर्मचारी 10 दिन से टालम टोली कर रहे थे।

VIDEO- https://fb.watch/2TWfGUZlEj/

किसान द्वारा यह कदम उठाने के बाद केंद्र पर हड़कंप मच गया। केंद्र से जुड़े अधिकारियों ने तरह-तरह के बयान देकर पूरे मामले में किसान की ही गलती बतानी शुरू कर दी। खरीद केंद्र के प्रभारी अर्जुन पाठक ने बताया कि किसान के कागज पूरे नहीं थे। किसान ने किसी के बहकावे में आकर धान में आग लगाई थी। वहीं डिप्टी आरएमओ संतोष कुमार यादव के अनुसार, किसान तीन दिन पहले अपना धान केंद्र पर रख कर गया था, लेकिन बिक्री के लिये अनिवार्य टोकन नहीं लिया था। इसके बावजूद वह तौल कराना चाहता था। टोकन न लेने के बावजूद किसान का धान तौला लिया गया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here