आप नेता संजय सिंह का ट्वीट, कहें राम-राम अडानी अंबानी के गुलामों

नए कृषि कानून को लेकर किसानों के आन्दोलन को 19 दिन का समय हो चुका है| सरकार और किसानों के बीच की गतिरोध और तेज़ हो गई है| किसानों का कहना है कि केंद्र सरकार की तरफ से बनाए गए कृषि कानून किसानों के हक में नहीं है और सरकार इसको तत्काल वापस ले|

वहीं अब सरकार किसानों की समस्याओं को सुनने के बजाए उन्हें बदनाम करने में लगी है| भाजपा के नेताओं द्वारा किसानों के आन्दोलन पर कई आपत्तिजनक टिप्पणियां किया जा रहा है|

दूसरी तरफ मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने भी किसान आन्दोलन पर आरोप लगाते हुए कहा कि किसान आन्दोलन के जरिए देश की एकता और अखंडता को चुनावती दी जा रही है|

उन्होंने विपक्ष पर हमला करते हुए कहा कि वे किसान के कंधे पर बंदूख रख, सुरक्षा और कानून व्यवस्था पर सेंध लगा रही है| मेरठ में एक रैली के दौरान सीएम योगी ने कहा कि इस तरह का कृत्य कतई बर्दाश नहीं किया जायेगा| समाधान संवाद से होगा, संघर्ष से नहीं| उन्होंने किसानों पर तंज कसते हुए कहा की किसानों से मुलाकात पर उन्हें ‘राम-राम’ कह कर संबोधित करें|

आगे उन्होंने महिला सुरक्षा पर कहा कि अगर हमारी बहन-बेटियों के साथ अपराध करने की कोशिश करेगा तो उसे बक्शा नहीं जायेगा| दुराचारियों और अपराधियों के ‘राम नाम सत्य है’ की यात्रा निकलने का काम करें| सीएम योगी की सुरक्षा की बातों से एक बात तो साफ़ हो जाता है की योगी जी या तो अपराध पर सिर्फ बड़ी-बड़ी बात करते हैं या तो वो उत्तर प्रदेश में हो रहे अपराध से वंचित हैं|

सरकार के इस बयान पर आम आदमी पार्टी के राज्यसभा सांसद संजय सिंह ने तीखी प्रतिक्रिया दी है|

उन्होंने सीएम योगी और पीएम मोदी पर तंज कसते हुए ट्वीट कर कहा कि किसान भाईयों से अनुरोध है भाजपा के PM CM मंत्रियों से जब भी मिलें उनसे कहें “राम-राम अडानी के ग़ुलाम कैसे हो? मालिक से कितनी दलाली मिली ज़रूर पूछे”?

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here