युवकों ने किशोरी का अपहरण कर चलती कार में किया हैवानियत

उत्तर प्रदेश में महिलाओं के साथ अपराध की घटनाएं लगातार बढ़ रही है| महिलाओं के साथ बढ़ता अपराध देखकर ऐसा लग रहा है कि अपराधियों पर किसी भी प्रकार का कोई भी भय नहीं है|

यूपी में अपराधी इतने बेख़ौफ़ हैं कि सूबे के मुखिया को भी आंख दिखने से पीछे नहीं हट रहे| महिलाओं की सुरक्षा को लेकर बनाये गये अभियान मिशन शक्ति का भी कहीं कुछ पता नहीं है| मिशन शक्ति की शुरुआत करते हुए सीएम योगी ने कहा कि इस अभियान के तहत महिलाओं पर अपराध करने वाले अपराधियों पर कार्रवाई की जाएगी|

बरेली में किशोरी के अपहरण की घटना ये बताती है कि मिशन शक्ति का अपराधियों पर कोई असर नहीं है| दरअसल फरीदपुर गांव अनुसूचित जाती की किशोरी और उनकी रिश्तेदार बालिका  का रात में अपहरण कर चलती चार में उसके साथ दरिंदगी की गई|

कक्षा 9 में पढ़ने वाली किशोरी और उसकी चचेरी बहन की बेटी का अपहरण किया गया| किशोरी की भांजी कक्षा 1 में पढ़ती है| किशोरी के पिता का कहना है कि वे दोनों रविवार रात 9 बजे घर के बहार बने शौचालय गई थी| वहां पहले से मौजूद फैजल पुत्र वजीरुद्दीन कार लिए खड़ा था| उसने अपने साथियों की मदद से किशोरी और उसकी भांजी को जबरन पकड़कर कार में बैठा लिया| उसी दौरान किशोरी की भाभी बहार निकली और ये सब होता देख उन्होंने शोर मचाया| तबतक फैज़ल उन दोनों को लेकर वहां से फरार हो चुका था|

तलाश में जुटी पुलिस ने घरामपुर पुलिया के पास आरोपियों को पकड़ लिया| किशोरी और उसकी भांजी को कार में ही मौजूद थी| पुलिस के सामने बयान देते हुए किशोरी ने बताया की उसके साथ आरोपियों द्वारा दरिंदगी की गई है|

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here