यूपी में महिलाएं नहीं हैं सुरक्षित, तेज़ाब पिलाकर चाकू से पेट फाड़ा

यूपी में सरकार द्वारा महिलाओं की सुरक्षा को लेकर मिशन शक्ति जैसे कई अभियान की शुरुआत हुई, इस अभियान की शुरुआत करते हुए सीएम योगी ने बयान देते हुए कहा था कि महिलाओं की सुरक्षा हमारा संकल्प है| वहीं दूसरी तरफ उत्तर प्रदेश के कोने कोने से आ रही महिलाओं के साथ अपराध की घटनाएं सरकार के दावों पर सवाल खड़े कर रहा है| ऐसी ही एक घटना बदायूं की है जहां सोमवार को आधी रात झोलाछाप पड़ोसी महिला के घर में घुस गया और उसके साथ छेड़छाड़ करने लगा| महिला द्वारा विरोध करने पर झोलाछाप सतेंद्र ने महिला को जबरन तेज़ाब पिलाया और चाकू से उसका पेट फाड़ दिया जिसके बाद महिला की आंतें बहार आ गई|

दरअसल महिला के सास ससुर उसकी जेठानी को देखने अस्पताल गए थे| महिला का पति काम करने के लिए दिल्ली गया हुआ था| 29 वर्षीय महिला अपने तीन बच्चों के साथ घर में अकेली थी| तभी झोलाछाप महिला को अकेला पाकर घर में घुस गया| और महिला के साथ छेड़छाड़ करने लगा महिला के विरोध करने पर तेज़ाब पिलाकर पेट काट दिया| जिसके बाद उसकी आंतें बहार आ गई| पूरी रात महिला चारपाई पर बेसुध तड़पती रही, मंगलवार को सुबह मोहल्लेवालों को इसकी जानकारी हुई जिसके बाद महिला को जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया| जहां डॉक्टरों ने महिला की हालत बिगड़ता देख उसे बरेली रेफ़र कर दिया|

बताया जा रहा है कि तेज़ाब की मात्र कम होने की वजह से उसका ज्यादा असर नहीं हुआ| सुबह बच्चों ने अपनी मां को उठाने की कोशिश की तो उसे खून से लतपत देखकर दर गए| बच्चों ने इसकी जानकारी पड़ोसियों को दी, पड़ोसियों की मदद से महिला को जिला अस्पताल में भारती कराया गया| जहां महिला की हालत गंभीर बताई जा रही है|

पुलिस ने देवर की तहरीर पर आरोपी सतेंद्र के खिलाफ एफआईआर दर्ज करते हुए गिरफ्तार कर लिया गया है|

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here